Home क्लासिक-कारें भारत की टॉप 5 सर्वाधिक चर्चित क्लासिक और विंटेज कारें

भारत की टॉप 5 सर्वाधिक चर्चित क्लासिक और विंटेज कारें

by Rachna Jha
Classic and Vintage Cars in India

हम आपको रूबरू करवाने जा रहे हैं; हमारे देश की ख्याति प्राप्त 5 क्लासिकविंटेज कारों से। जोकि आज भी हमारे लिए अनमोल धरोहर हैं। जिन्हें हम बहुत से शाही परिवारों व संग्रहालयों में पाते हैं। तो चलिए, विस्तार से जानकारी लें:-

1985 से 1995 तक पसंद की जाने वाली क्लासिक कारें

1935 डेल्हाए 135 एम एस:-

यह रॉयल व बहुमूल्य क्लासिक कार हमारे देश के शाही परिवार अर्थात जोधपुर के शाही घराने के पास है। वहीं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कार का निर्माण कुल 11 की संख्या में हुआ था। पर, अब दुनियां में केवल 5 कारें ही उपलब्ध हैं। साथ ही इस कार का अपना एक शानदार इतिहास रहा है। एक दशक पूर्व, मुंबई में पहली बार इस डेल्हाए ने कार्टीयर कॉनकोर्स डी एलीगेन्स का खिताब जीता था। इस तरह इसने ऑटोमेटिव के इतिहास में अपनी एक अलग ही पहचान बनाई।

- कार माय कार

80 और 90 के दशक की टॉप 7 क्लासिक कारें

1935 रोल्स-रॉयस फैन्टम 2 कॉन्टिनेन्टल:-

हमारे देश में यह एकमात्र, अनेक आकर्षक व भव्य खूबियों वाली क्लासिक व विंटेज श्रेणी की कार है। इसे 6 फैन्टम 2 कॉन्टिनेन्टल ने भारत में बनाया था। केवल एक यह कार ही अस्तित्व में रह गई है। वहीं चेसिस नंबर 62 UK को प्रभावित करती यह कार; डेल्हाए की भव्यता से भी मेल खाती है।

- कार माय कार

80 और 90 के दशक की कुछ प्रसिद्ध भारतीय कारें

1958 मर्सिडीज़-बेंज़ 300 एस एल रोडस्टर:-

जहाँ 50 के दशक में इस ड्रॉप टॉप सुपर कार को ब्रांड न्यू के बाद से, गोंडल के शाही परिवार में जगह मिली। वहीं, अपने समय की यह सबसे महंगी व तेज कारों में से एक मानी जाती थी। साथ ही, आधुनिक दौर के मर्सिडीज-बेंज़ एसएलएस एएमजी को भी यह विंटेज व क्लासिक कारों श्रेणी की रॉयल कार एक चुनौती देती है।

- कार माय कार

टॉप मोस्ट एलिगेंट विंटेज कार

1925 हिसपनों सुईजा एच 6 बी:-

भारत के साथ-साथ पूरे विश्व स्तर पर भी यह एक महत्वपूर्ण कार है। यह एच 6 बी मूलतः मैसूर के महाराज के अधिन रही थी। फिलहाल इसे कोयम्बटूर के संग्राहलय में देखा जा सकता है। साथ ही, इसे “ला ट्रांसफॉर्मेबल 6 गल्स” भी अपने बॉडी व स्टाइल के लिए कहा जाता रहा है।

- कार माय कार

विंटेज और क्लासिक कारों को स्थायी रूप से एनजीटी प्रतिबंध से छूट मिली

1931 लैंसिया दिलमबाड़ा:-

यह भारत के 5 शीर्ष क्लासिक व विंटेज कारों की श्रेणी वाली कार; हमारे देश के साथ-साथ दुनिया की भी सबसे पुरानी पिनिनफेरीना कारों में से एक है। साथ ही, इसका एक शानदार व रोचक इतिहास रहा है। वहीं, पिनिनफेरीना के साथ महिंद्रा का भी जुड़ाव है। जोकि, एक भारतीय ब्रांड भी है। कुल मिलाकर इसे उच्च-कोटि की कारों की श्रेणी में रखता है।

- कार माय कार

हमने आपको भारत की 5 प्रमुख क्लासिक व विंटेज कारों से परिचित करवाया। जोकि, ना सिर्फ हमारे देश के लिए बल्कि पूरे विश्व के लिए अनमोल धरोहर हैं।  

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. OK Read More