Home राष्ट्रीय न्यूज तो यह है भारत की पहली टेस्ला कार…

तो यह है भारत की पहली टेस्ला कार…

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

भारत में पहली टेस्ला विद्युत कार आ गई है। यह टेस्ला मॉडल एक्स एसयूवी है, और इसकी विशेषता गुल-विंग्स है। यह एक अज्ञात खरीदार द्वारा देश में आयात की गई है, और मुंबई बंदरगाह में पहुंच गई है, जहां से सीमा शुल्क औपचारिकता के बाद यह जल्द ही अपने मालिक तक पहुंच जाएगी।

मॉडल एक्स एसयूवी, सबसे तेज़ टेस्ला कारों में से एक है। 7 सीट एसयूवी दो विद्युत मोटर्स का उपयोग करती है – एक फ्रंट एक्सल ड्राइव करता है और दूसरा रियर ड्राइव करता है। सामने वाला विद्युत मोटर, 259 पीएस की पावर का उत्पादन करता है, जबकि पीछे वाला मोटर 503 पीएस की पावर का उत्पादन करता है।

साथ में, मोटर्स बेस पी90 वेरियंट में 967 एनएम की चोटी टॉर्क का उत्पादन करते हैं, जो कि मॉडल एक्स में 4.8 सेकेंड्स में 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की गति प्राप्त करने के लिए प्रयाप्त है। इसकी शीर्ष गति 250 किमी प्रति घंटा है।

टेस्ला, तीव्रतर पी90डी संस्करण भी पेश करती है, जो की सिर्फ 3.8 सेकंड में 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की गति प्राप्त कर सकती है। इसमें लुडीक्रस मोड है, जिसे दबाने से मॉडल एक्स पी90डी, बैलिस्टिक की तरह सिर्फ 3.2 सेकंड में 100 किमी प्रति घंटे की गति प्राप्त कर सकती है।

टेस्ला मॉडल एक्स, तीन पंक्तियों में 7 लोगों को बैठा कर ले जा सकती है। यह कई दिलचस्प विशेषताओं के साथ आती है, जिसमें सेमि ऑटोनोमस ड्राइविंग सिस्टम (जिसे टेस्ला ऑटोपाइलेट कहती है), अजस्टेबल राइड हाइट और अत्याधुनिक, टचस्क्रीन टैबलेट-आधारित इंफोटेंमेंट सिस्टम शामिल है।

वर्तमान में, इसे फ़्रेमोंट, कैलिफ़ोर्निया में टेस्ला के एकमात्र कारखाने में बनाया गया है और इसकी कीमत अमेरिका के बाजार में लगभग 128,000 अमरीकी डालर है। इसे भारत में आयात करने के लिए 2 करोड़ रूपए की लागत लगेगी। यह महंगी है, लेकिन ज्यादातर सुपरकारों की तुलना में बहुत सस्ती है। यह चलाने में भी सस्ती है क्योंकि यह विद्युत पावर पर चलती है।