Home राष्ट्रीय न्यूज रेनॉल्ट मार्च 2018 तक भारत में करेगी मोबाइल कार्यशालाओं का विस्तार

रेनॉल्ट मार्च 2018 तक भारत में करेगी मोबाइल कार्यशालाओं का विस्तार

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

फ्रांसीसी ऑटो प्रमुख रेनॉल्ट, दूर स्थानों पर रहने वाले ग्राहकों के लिए मोबाइल वर्कशॉप प्रदान करेगी और अगले साल तक 76 स्थानों पर इस सेवा का विस्तार करने की योजना है। कंपनी ने 2017 के अंत तक 320 डीलरशिप होने की योजना बनाई है और मार्च 2018 तक कार्यशालाओं का विस्तार करेगी।

रेनॉल्ट इंडिया के कंट्री सीईओ और प्रबंध निदेशक, सुमित साहनी ने कहा “हम मार्च, 2018 तक 76 स्थानों तक इसका विस्तार कर लेंगे। वर्तमान में, 46 मोबाइल वर्कशॉप है। ये मोबाइल वर्कशॉप ग्राहकों द्वारा लंबी दूरी की यात्रा करने के बजाय उनके स्थान पर सर्विस देगी। अगर कोई ग्राहक चेन्नई से 70 किमी दूर रहता है और अगर उसके पास में कोई सर्विस सेंटर नहीं है, तो वह एंड्रॉइड और आईओएस प्लेटफार्मों में उपलब्ध “माई रेनॉल्ट ऐप” डाउनलोड कर सकता है और वाहन सेवित होने के लिए एक अपॉइंटमेंट बुक कर सकता है। बुकिंग के माध्यम से, इंजीनियर ग्राहक के पास जाएंगे और वाहन की सर्विसिंग करेंगे”।

बिक्री के बारे में साहनी ने कहा कि “उन्हें विश्वास है कि कंपनी इस साल एक लाख से ज्यादा इकाइयां बेचेगी। पिछले साल, हमने एक लाख से ज्यादा इकाइयां बेची हैं। इस वर्ष भी हम एक लाख से अधिक इकाइयों को पार करेंगे।”

उन्होंने आगे कहा “ कैप्टूर के इस महीने के अंत तक या नवंबर के पहले हफ्ते तक वाणिज्यिक रूप से लॉन्च होने की उम्मीद है। हमारी संयंत्र क्षमता लचीली है और हम मांग के मुताबिक उत्पादन को बदल सकते हैं। वर्तमान क्षमता उपयोग लगभग 65 प्रतिशत है। वर्तमान में, रेनॉल्ट लोकप्रिय हैचबैक क्विड, एसयूवी डस्टर और बहुउद्देश्यीय वाहन लॉजी को बेचती है।“

निसान के साथ मिलकर, कंपनी के पास चेन्नई के ओरगडम में एक विनिर्माण सुविधा है, जिसकी उत्पादन क्षमता 4.80 लाख इकाइयाँ है।

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.