Home राष्ट्रीय न्यूज 1.3 लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन का रेनॉल्ट-डेमलर ने अनावरण किया

1.3 लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन का रेनॉल्ट-डेमलर ने अनावरण किया

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

रेनॉल्ट के नए 1.3-लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन को एलायंस और डेमलर द्वारा सह-विकसित किया गया है। यह नया मोटर 2018 से शुरू होने वाले रेनॉल्ट रेंज के साथ आएगा। नया इंजन, उच्च रेव रेंज में लगातार उपलब्धता के साथ कम आरपीएम पर बेहतर टॉर्क प्रदान करता है। इंजन कम सीओ2 उत्सर्जन के साथ ईंधन की कम खपत करेगा। इसका मतलब यह नहीं है कि इंजन से कार के प्रदर्शन में कुछ भी कमी आएगी।

नया इंजन ब्लॉक, डुअल क्लच ऑटॉमेटिक ट्रांसमिशन सिस्टम के साथ हस्तचालित गियरबॉक्स के साथ आता है। ये इंजन 115 एचपी से 160 एचपी तक के विभिन्न पावर उत्पादन में उपलब्ध हैं। मोटर में एलायंस द्वारा विकसित कई इनोवेशन हैं, जैसे कि बोर स्प्रे कोटिंग और सिलेंडर कोटिंग तकनीक, जिसे निसान जीटी-आर इंजन से लिया गया है और यह घर्षण में कमी और गर्मी हस्तांतरण के अनुकूलन को सुनिश्चित करके दक्षता में सुधार करने में मदद करता है। इंजन में डुअल वैरिएबल टाइमिंग कैमशाफ्ट तकनीक भी है, जो की अलग-अलग इंजन के भार के अनुसार इंटेक और इग्जोस्ट वाल्व को समायोजित करता है।

नए इंजन पर टिप्पणी करते हुए, पावरट्रेन एंड इलेक्ट्रिक वाहन डिवीजन में एलायंस ग्लोबल वीपी, फिलिप ब्रुनेट ने कहा, “हमारा नया पेट्रोल इंजन ग्रुप रेनॉल्ट के इंजीनियरों की सभी विशेषज्ञता, एलायंस और हमारे पार्टनर डेमलर का प्रतीक है। यह दोनों एलायंस और डेमलर के गुणवत्ता मानकों को पूरा करता है और इसका 40,000 से अधिक घंटे तक परीक्षण किया गया हैं। ऊर्जा टीसीई 130 की तुलना में, नया ऊर्जा टीसीई 140, 35 एनएम की अतिरिक्त पीक टॉर्क का उत्पादन करता है, जो की व्यापक रेव बैंड 1,500 से लेकर 3,500 आरपीएम तक उपलब्ध है।”

ऑटोकार प्रोफेशनल ने हाल ही में बताया है कि रेनॉल्ट भारत के लिए कुछ बजट-अनुकूल मॉडल पर काम कर रही है। सबसे दिलचस्प मॉडल, क्विड-आधारित एमपीवी (बहुउद्देशीय वाहन) है, जिसे फिलहाल कंपनी तैयार कर रही है। सात सीटर कार, सीएमएफ-ए + प्लेटफॉर्म पर आधारित होगी और वर्तमान में विकास के अंतिम चरण में है।