Home राष्ट्रीय न्यूज फॉक्सवैगन ने भारत में पसाट का उत्पादन शुरू किया

फॉक्सवैगन ने भारत में पसाट का उत्पादन शुरू किया

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

फॉक्सवैगन इस साल के अंत में नई आठवीं पीढ़ी के मॉडल के साथ देश में पसाट मॉडल को फिर से पेश करने के लिए तैयार है। फॉक्सवैगन इंडिया ने महाराष्ट्र में वीडब्ल्यू ग्रुप की औरंगाबाद फेसिलिटी में पसाट का स्थानीय उत्पादन शुरू कर दिया है। यह वही फेसिलिटी है, जिसने टिगुआन को बनाया है। स्कोडा सूपर्ब, ऑक्टेविया और आगामी कोडिएक के साथ सेडान और दोनों एसयूवी, वीडब्ल्यू ग्रुप के एमक्यूबी (मॉड्यूलर ट्रांस्वार्स मैट्रिक्स) प्लेटफॉर्म का हिस्सा हैं।

खराब बिक्री के कारण 2013 में भारतीय बाजार से सातवीं पीढ़ी के पसाट को बंद कर दिया गया था। उसी वर्ष, होंडा ने पसाट के प्राथमिक प्रतिद्वंद्वी होंडा एकॉर्ड को भी बंद कर दिया था। हालांकि, स्कोडा सूपर्ब और टोयोटा केमरी बाजार में बने रहे और इनकी एसयूवी बाजार में अपेक्षाकृत बिक्री जारी रही।

अब जब पसाट वापसी के लिए तैयार है, तो इसे होंडा एकॉर्ड सहित इन प्रीमियम सेडान का सामना करना होगा। होंडा एकॉर्ड को इस साल के शुरू में हाइब्रिड अवतार में फिर से लॉन्च किया गया। पसाट की उपकरण सूची, सूपर्ब के समान होने की उम्मीद है। इसे और अधिक आकर्षक बनाने के लिए फॉक्सवैगन इसे अधिक सुविधाएँ भी प्रदान कर सकती है।

सूपर्ब के विपरीत, कम से कम शुरू में पसाट केवल डीजल इंजन के साथ बेची जाएगी। यह 2.0-लीटर डीजल इंजन द्वारा संचालित की जाएगी, जो की 177 पीएस की पावर और 350 एनएम की टॉर्क का उत्पादन करता है। इस इंजन को 6 गति डीएसजी (डुअल क्लच ऑटोमेटिक) के साथ मेटिड किया जाएगा। संभावना है की वीडब्ल्यू पसाट की कीमत 28-30 लाख रुपए की रेंज में होगी।