Home राष्ट्रीय न्यूज प्योजिओ, शुरु में तीन विभिन्न कारों को लॉन्च करेगी

प्योजिओ, शुरु में तीन विभिन्न कारों को लॉन्च करेगी

by कार डेस्क

प्योजिओ, भारतीय बाजार में फिर से प्रवेश करने के लिए तैयार है और फ्रांसीसी ऑटो प्रमुख, प्रारंभिक चरण में कम से कम तीन अलगअलग मॉडल के साथ विभिन्न क्षेत्रों में प्रवेश करना चाहती है। ऑटोमेकर, घरेलू बाजार में हैचबैक, कॉम्पैक्ट सेडान और कॉम्पैक्ट एसयूवी को लॉन्च करेगी, जिनका आंतरिक रूप से कोडनेम क्रमश: एससी1, एससी2 और एससी3 हैं। ये तीन कार मारुति सुजुकी स्विफ्ट, डिज़ायर और विटारा ब्रेज़ा के साथ प्रतिस्पर्धा करेगी।

इन तीनों उत्पादों को फ्रांस में कंपनी के अनुसंधान एवं विकास केंद्र में विशेष रूप से भारतीय बाजार पर ध्यान केंद्रित करते हुए डिज़ाइन किया गया है। उम्मीद है की 2020 नई दिल्ली ऑटो एक्सपो में इन तीन मॉडलों को देश के बाजार में प्रदर्शित किया जाएगा। फ्रांस में डिजाइन किए जाने के बावजूद, इन तीनों कारों का प्रतिस्पर्धी मूल्य प्राप्त करने के लिए 85% स्थानीयकरण के साथ उत्पादन किया जाएगा।

ब्रांड ने इन तीनों कारों के बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं बताया है। इनके पीएसए पीएफ1 आर्किटेक्चर पर आधारित होने की उम्मीद हैं, जो कि वैश्विक बाजार के लिए विकसित एक सबकॉम्पैक्ट प्लेटफॉर्म है। न केवल भारतीय बाजार, बल्कि प्योजिओ का इन कारों को कई एसियन और अफ्रीकी देशों में निर्यात करने का लक्ष्य है।

भारत में अपनी वापसी के लिए, पीएसए ने सीके बिड़ला ग्रुप के साथ समझोता किया है और उसने देश में 700 करोड़ रुपये का प्रारंभिक निवेश करने का वादा किया है। दोनों कंपनियाँ देश में कारों को न केवल संकलित करेगी और बेचेगी, बल्कि वे 50:50 जेवी कंपनी एवीटीईसी के तहत पावरट्रेन का निर्माण भी करेगी। इन इंजनों और ट्रांसमिशन का उपयोग घरेलू बाजार और दुनिया भर के अन्य देशों में किया जाएगा।

शुरू में, संयुक्त उद्यम पीएसए और सीके बिड़ला ग्रुप के तहत हर साल 100,000 वाहनों का उत्पादन होने की उम्मीद है और यह मात्रा बाद में और भी बढ़ सकती है। पीएसए ने अपनी कारों के स्थानीय उत्पादन के लिए पहले ही लगभग 50 टियर -1 ऑटोमोटिव घटक आपूर्तिकर्ताओं से बात कर ली है और इसने चार लाख से अधिक वाहनों के लिए घटकों का भी ऑडर दे दिया है।

जैसा कि भारत में यात्री वाहन बाजार आने वाले वर्षों में काफी बढ़ेगा, तो पीएसए का लक्ष्य अपने कारों के साथ अपनी पकड़ मजबूत और बाजार का बड़ा हिस्सा हासिल करना है। हालांकि, यह यात्रा कंपनी के लिए आसान नहीं होगी क्योंकि इसे यहां कई अन्य ब्रांडों से भारी प्रतिस्पर्धा का सामना करना होगा, जो की पहले से ही यहां मौजूद हैं।

You may also like

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. OK Read More