Home Uncategorized प्योजिओ, भारत के लिए उप-4 मीटर कॉम्पैक्ट एसयूवी पर काम कर रही है

प्योजिओ, भारत के लिए उप-4 मीटर कॉम्पैक्ट एसयूवी पर काम कर रही है

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

भारत में लोग एसयूवी की तरह दिखने वाले मॉडल को काफी पसंद करते है। इसी कारण से, एसयूवी डिज़ाइन से प्रेरित वाहन सभी आकारों और मूल्य कोष्ठों में दिख रहे हैं। एसयूवी के लिए इस पागलपन को देखते हुए, अधिकांश नए ऑटोमोबाइल प्रवेशक इस तरह के वाहनों के साथ भारत में अपनी शुरूआत करे रहे है। इसलिए कॉम्पैक्ट एसयूवी में शानदार वृद्धि देखी जा रही है और यह सबसे तेजी से बढ़ रहे सेगेमेंट में से एक है। पीएसए ग्रुप के स्वामित्व वाले प्योजिओ भी भारत वापस आ रहे हैं और ये भी कॉम्पैक्ट एसयूवी सेगमेंट को लक्ष्य बना रहे हैं।

हालांकि अभी तक उत्पाद पर कोई स्पष्टता नहीं है, लेकिन यह लगभग निश्चित है कि भारत में प्रवेश करने वाली पहली उत्पाद कॉम्पैक्ट एसयूवी होगी। ह्युंडई एलिट आई20 और मारुति बैलेनो के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए एसयूवी जैसी डिजाइन की प्रीमियम हैचबैक और होंडा सिटी और ह्युंडई वेरना के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए मध्य आकार की सेडान भी होगी।

प्योजिओ की वैश्विक लाइनअप को देखते हुए, उनके पास भारत में अपनी पारी शुरू करने के लिए कई अच्छे विकल्प हैं। उदाहरण के लिए प्योजिओ 2008, भारतीय बाजार के लिए सही वाहन लगती है, हालांकि उन्हें ह्युंडई और मारुति जैसी प्रतिद्वंद्वियों के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए आक्रामक मूल्य प्राप्त करने के लिए इसे अत्यधिक स्थानीयकृत करना होगा।

वैश्विक प्योजिओ 2008 की लंबाई 4.1 मीटर से अधिक है, इसलिए यदि वे इसे यहां लाने की योजना बनाते हैं तो उनके पास दो विकल्प हैं – या तो इसे आकार में लाए और ह्युंडई क्रेटा के साथ प्रतिस्पर्धा करे या 2008 डिजाइन के आधार पर पूरी तरह से नया उप-4 मीटर वाहन विकसित करें और ब्रेज़ा के साथ प्रतिस्पर्धा करे। अ

गर वे दूसरे विकल्प के साथ जाने की योजना बना रहे हैं, तो उन्हें प्लेटफॉर्म की आवश्यकता होगी, जो कि उप-4 मीटर एसयूवी / क्रॉसओवर को समायोजित कर सके और उनके पास पहले से ही पीएसए पीएफ1 प्लेटफॉर्म है, जिस पर कंपनी की 208 हैचबैक बनाई गई है। इसकी उच्च संभावना है कि कंपनी यहां 2008 को लॉन्च करेगी, जिससे ब्रैंड को समान प्लेटफॉर्म पर उप-4 मीटर एसयूवी विकसित करना आसान हो जाएगा।

पीएसए ग्रुप ने सीके बिड़ला ग्रुप के साथ संयुक्त उद्यम भी बनाया है, जो कि हिंदुस्तान मोटर का मालिक है। संयुक्त उद्यम के अनुसार, कंपनी शुरू में 700 करोड़ रुपये का निवेश करेगी। वास्तव में, पावरट्रेन संयंत्र का उद्घाटन पहले ही किया जा चुका है।

तमिलनाडु के होसुर में आधारित, यह इंजन संयंत्र पीएसए ग्रुप और सीके बिड़ला ग्रुप की स्वामित्व वाली एवीटीईसी के बीच 50:50 संयुक्त उपक्रम है। ​प्योजिओ कॉम्पैक्ट एसयूवी, संभवतः 2019 के अंत तक या 2020 के शुरू में लॉन्च हो सकती है।

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.