Home विंटेज कार दुनिया की सबसे अजीब ​विंटेज कारें

दुनिया की सबसे अजीब ​विंटेज कारें

by Mahima Bhatnagar
Vintage cars

ऑटोमोबाइल की दुनिया भी कम हैरान करने वाली नहीं है। कारों की डिजाइन से लेकर उनमें प्रयोग की जाने वाली तकनीकियां सब कुछ ऐसा है कि जो आपको सोचने पर मजबूर कर सकता है। आज के समय में हर कोई कार खरीदने से पहले उसके डिजाइन की बात सबसे पहले करता है। लेकिन पुराने दौर में कुछ ऐसी कारों का भी निर्माण हुआ है जिनके डिजाइन को देख कर शायद आप उसे खरीदने से पहले सौ बार सोचेंगे।

ऐसा नहीं है कि इन कारों को मोडिफाई किया गया है या फिर किसी क्रेजी कार लॅवर द्वारा तैयार किया गया है। बल्कि इन कारों को खुद फेरारी और कैडिलैक जैसी दिग्गज कार निर्माताओं ने तैयार किया है। तो आइये एक नजर डालते हैं दुनिया की टॉप 5 अजीबों गरीब डिजाइन वाली कारों पर

Kia Motors बन गई, भारत की छठी कार निर्यातक

Cadillac Cyclone: अमेरिकन वाहन निर्माता कंपनी जनरल मोटर्स की ब्रांड कैडिलैक ने सन 1959 में साइक्लोन नाम से इस कार को लांच किया था। इस कार में हेडलाइट्स की जगह पर दो नुकीले कोन का प्रयोग किया गया था। ये महज कोई कोन नहीं है बल्कि ये एस समय की क्रैश एवॉइडेंस सिस्टम था। जिसे आज क्रूज कंट्रोल के नाम से जाना जाता है। ये सिस्टम इस कार में सेफ्टी फीचर्स के तौर पर प्रयोग किया गया था। ये सिस्टम सामने से होने वाली किसी भी टक्कर से पहले ही सिग्नल लाइट देता था और कार में ऑटोमेटिकली ब्रेक अप्लाई हो जाता था।

Oeuf electrique: ओउफ इलेक्ट्रिक ने सन 1942 में तीन पहिए वाली अंडे के आकार की इस इलेक्ट्रिक कार को पेश किया था। उस दौर में जब पेट्रोल और डीजल वाली कारों का जलवा था तब इस इलेक्ट्रिक कार ने सबको चौंका दिया था। इसके डिजाइनर, पेरिस पॉल आरज़ेंस कार डिजाइन करने से पहले रेलवे के इंजन डिजाइन किया ​करते थें।

भारत की टॉप 5 सर्वाधिक चर्चित क्लासिक और विंटेज कारें

General Motors Firebird 1 XP-21: अमेरिकन वाहन निर्माता कंपनी जनरल मोटर्स ने सन 1953 में इस फाइटर जेट कार को पेश किया था। जैसा कि आज के दौर में कोएनिग्सेग और पगानी जैसे कार निर्माता कंपनियां जेट इंजन का इस्तेमाल करती हैं वैसे इस कार में वाकई में I XP-21 फाइटर जेट इंजन का प्रयोग किया गया था। इसके अलावा इसे इस तरफ से ट्यून किया गया था कि ये 370 हॉर्स पावर की शक्ति उत्पन्न करती थी। उस दौर किसी कार में इतना पावर होना बड़े अचरज की बता होती थी। आप इसके खास फाइटर जेट वाले डिजाइन को स्वयं देख सकते हैं।

Norman Timbs Special: बेशक कोई भी कार ऐसी नहीं दिख सकती है। इस कार को नॉर्मन टिम्बस ने सन 1947 में डिजाइन किया था और इस प्रोजेक्ट को पूरा करने में 3 सालों का वक्त लगा था। इस कार के पिछले हिस्से में बड़ा सा टेल बूट दिया गया था। इसके अलावा इंजन को कार के पिछले हिस्से में ही लगाया गया था। अपने खास वॉटर ड्रॉप डिजाइन के चलते ये कार काफी मशहूर रही है।

1985 से 1995 तक पसंद की जाने वाली क्लासिक कारें

Ferrari (Pininfarina) 512 S Modulo: मशहूर इटैलियन स्पोर्ट कार निर्माता कंपनी फेरारी ने सन 1970 में डिजाइनिंग फर्म पेनिनफेरिना के साथ मिलकर इस कार को पेश किया था। इस कार को उस समय जेनेवा मोटर शो के लिए तैयार किया गया था। लोगों का ध्यान आकर्षिक करने के लिए डिजाइनर ने फेरारी 512 एस पर अजीब तरह की बॉडी को डिजाइन किया था। ये कार उस समय काफी सुर्खियों में रही थी।

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. OK Read More