Home राष्ट्रीय न्यूज एमजी मोटर्स ने अपनी भारत योजना का खुलासा किया

एमजी मोटर्स ने अपनी भारत योजना का खुलासा किया

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

ब्रिटिश कार निर्माता, उच्च स्तर के स्थानीयकरण के साथ भारतीय कार बाजार में प्रवेश करने का इरादा रखती है। हॉलोल संयंत्र का स्वामित्व पहले जनरल मोटर्स इंडिया के पास था। एमजी मोटर की मूल कंपनी एसएआईसी ने पिछले साल इस संयंत्र को खरीदा था। कार निर्माता का दावा है कि हॉलोल संयंत्र में एक नई प्रेस शॉप के लिए सुविधा होगी और इसमें वर्तमान असेम्बली लाइनों और अन्य सुविधाओं के लिए संशोधन होगा। एमजी मोटर्स हर साल भारतीय बाजार के लिए एक नए उत्पाद को तैयार करने की योजना भी बना रही है। सबसे पहले, 2019 की दूसरी तिमाही (जून और अगस्त के बीच) में एक क्रॉसओवर / एसयूवी पेश की जाएगी।

इस बीच, कार निर्माता देश में संभावित डीलरशिप को लुभाने के लिए डीलर रोड शो भी आयोजित करेगी। रोड शो 28 मार्च को मुंबई में, 6 अप्रैल को दिल्ली में और 16 अप्रैल को बेंगलुरु में आयोजित किया जाएगा। एमजी मोटर इंडिया सक्रिय रूप से नए ऊर्जा वाहनों की पेशकश करने पर भी विचार कर रही है और व्यावसायिक रूप से तकनीक को लागू करने के लिए शामिल सभी हितधारकों के साथ काम करने के लिए इच्छुक है।

इसके अलावा, एसएआईसी की स्वामित्व वाली कार निर्माता का लक्ष्य है कि इसके कर्मचारियों में अधिक लिंग विविधता हो। वर्तमान में, कंपनी के कुल कर्मचारियों में सिर्फ 22 फीसदी महिला कर्मचारी हैं, जो कि 35 फीसदी तक बढ़ने की योजना है। योजना में ग्राहकों की संतुष्टि को बढ़ने के लिए अगले कुछ सालों में पूरे देश में 300 से अधिक टच पॉइंट की स्थापना भी शामिल है।

एमजी मोटर इंडिया के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, राजीव चबा ने बाजार के लिए कंपनी की योजना पर टिप्पणी करते हुए कहा, “एमजी ब्रांड अपनी महान ब्रिटिश विरासत को संजोते हुए भविष्य की अविश्वसनीय तकनीक को अपनाने की कोशिश करता है। हम अपनी भारत रणनीति पर तेजी से आगे बढ़ रहे हैं और इसके लिए एक मजबूत संगठन का निर्माण कर रहे हैं। हमारा लक्ष्य उन वाहनों को प्रदान करना है, जो कि प्रीमियम छवि और अच्छे मूल्य के साथ नए युग के और बहुत समकालीन होंगे। “

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.