Home राष्ट्रीय न्यूज मर्सिडीज-बेंज ने रडार-आधारित सुरक्षा सुविधाओं को पेश किया

मर्सिडीज-बेंज ने रडार-आधारित सुरक्षा सुविधाओं को पेश किया

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

मर्सिडीज-बेंज ने मुख्य प्रतिद्वंद्वियों, विशेष रूप से वोल्वो के साथ प्रतिस्पर्धा बढ़ाने के लिए, भारत में रडार-आधारित सुरक्षा सुविधाओं को पेश किया है। मेय्बेच एस650 और एस560 और फेसलिफ्टिड एस350डी जैसे नए लॉन्च के साथ देश में अग्रणी लक्जरी कार निर्माता, उन्नत चालक सहायता प्रणाली की रेंज लाई है।

सभी तीन मॉडलों में एक्टिव स्टीयरिंग असिस्ट, एक्टिव डिस्टेंस असिस्ट्स, एक्टिव ब्लाइंड स्पोर्ट असिस्ट, और एक्टिव लेन कीपिंग असिस्ट आदि सुविधाएँ शामिल हैं। पहले से ज्यादा सुरक्षित ड्राइविंग अनुभव के लिए कारों के चारों ओर सेंसर और कैमरे की निरंतर निगरानी के साथ यह कार्य करते है।

एक्टिव स्टीयरिंग असिस्ट, वाहन को रडार तकनीक का उपयोग करते हुए लेन के बीच में रहने के लिए सक्षम बनाता है, जबकि एक्टिव डिस्टेंस असिस्ट, 210 किमी प्रति घंटे तक की गति के लिए वेहिकल अप फ्रंट से दूरी बनाए रखता है। आवश्यक होने पर, अक्टिव ब्रेकिंग असिस्ट के माध्यम से सुरक्षित ड्राइविंग दूरी रखने के लिए ब्रेक लगाए जाते हैं, जो कि आपातकालीन स्टॉप के दौरान भी मदद करता है।

जैसा कि नाम से पता चलता है, एक्टिव लेन कीपिंग असिस्ट, एक लेन पर मर्सिडीज-मेय्बेच एस650, एस560 या एस350 डी के सही चलन को सुनिश्चित करता है। ईवासिव स्टीयरिंग असिस्ट, स्वचालित रूप से टक्कर से बचाकर अनिश्चित यातायात या गंभीर स्थिति में मदद करता है।

रिमोट पार्किंग असिस्ट, पार्किंग में मदद करती है, जबकि ब्लाइंड स्पॉट असिस्ट टैक्नोलॉजी, जब सड़क के किनारे कुछ दिखाई नहीं देता है तो यह सूचित करती है और फिर कार्य करती है और यह रात में ड्राइव करने के लिए शानदार सुविधा है। एक और महत्वपूर्ण विशेषता, मैजिक बॉडी कंट्रोल है, जो कि स्वचालित रूप से सड़क की स्थितियों पर आधारित सस्पेंशन को निर्धारित करता है।

वोल्वो, भारत में रडार-आधारित तकनीक वाले कारों को बेचने वाली पहली ब्रांड थी और 2016 के अंत में लॉन्च की गई एक्ससी90 टी8 एक्सलेंस, 76-77 गीगाहर्ट्ज़ आवृत्ति रेंज का इस्तेमाल करके इस तरह की तकनीकों के साथ आने वाली पहली कार थी।

इसमें अनुकूली क्रूज़ नियंत्रण, रियर कोलिज़न वार्निंग पार्क असिस्ट, लेन प्रस्थान चेतावनी और क्रॉस-ट्रैफिक अलर्ट के साथ ब्लाइंड स्पॉट डिटेक्शन शामिल है। ऑटोमोटिव क्षेत्र में अधिक आवृत्तियों के आवंटन के साथ, हम उम्मीद कर सकते हैं कि अन्य निर्माताएँ भी अपने संबंधित रडार आधारित सहायता प्रणालियां भी प्रदान करें।

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.