33 साल बाद मारुति ने जिप्सी के प्रोडक्शन पर लगाई रोक, ये है वजह

देश की सबसे बड़ी और विश्वसनीय कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने भारत से अपनी बहुचर्चित जिप्सी कार के प्रोडक्शन को बंद कर दिया है।

maruti gypsy
Twitter

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी और विश्वसनीय कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने भारत से अपनी बहुचर्चित जिप्सी कार के प्रोडक्शन को बंद कर दिया है।

फोर्ड एस्पायर ने पेश किए CNG के दो नए वेरिएंट, ये है कीमत

मारुति ने अपनी इस कार की प्रोडक्शन को करीब 33 साल बाद बंद करने का फैसला कर दिया है। कंपनी ने भारत में इसको पहली बार 1985 में पेश किया था। जिसके बाद से लेकर अभी तक यहां कार ने धूम मचाए रखी।

मारुति की यहां कार कंपनी की सबसे पुरानी कारों में से एक मानी जाती है। कंपनी की मारुति 800 और ओमनी वेन के बाद सबसे चलने वाली तीसरे नंबर की कार जिप्सी को माना गया था।

बताते चले कि कंपनी ने अपने सभी डीलर्स को आधिकारिक स्टेटमेंट के द्वारा जानकारी दी है कि जिप्सी के सभी वेरिएंट्स के प्रोडक्शन को बंद कर दिया गया है और कंपनी ने डीलर्स से कहा है कि इस एसयूवी के लिए बुकिंग लेना बंद कर दें।

मारुति ने कार के प्रोडक्शन को इस वजह से किया बंद

मारुति ने जिप्सी के बंद करने की वजह साफ करते हुए कहा है कि इस साल अप्रैल और अक्टूबर के महीने में कुछ नए सुरक्षा से जुड़े नियम आने वाले है। जबकि कंपनी ने अपनी इस एसयूवी कार में काफी कम बदलाव किए थे इसका डिजाइन 33 सालों से एक जैसा ही बना हुआ है।

ऐसे में नए सुरक्षा संबंधित नियमों के हिसाब से कंपनी को फिर से इस कार को डिजाइन करने की जरुरत होगी। इसके साथ ही मारुति जिप्सी के प्रोडक्शन में भी काफी कमी आने लगी थी।

जिसकी वजह से कंपनी ने इस कार के इन्वेस्टमेंट काफी महंगा साबित हो रहा था। जिसके तहत कंपनी ने अपनी इस एसयूवी को पूरी तरह से बंद करने का फैसला लिया।

महिंद्रा ने भारत में पेश की नई एसयूवी अल्तुरस जी4, ये है फीचर्स

मारुति जिप्सी को कंपनी सिंगल पेट्रोल इंजन में पेश किया था। जिसमें 1.0 लीटर फोर-सिलिंडर इंजन के साथ उतारा गया था। जबकि कंपनी ने इसको बाद मे अपडेट कर 1.3 लीटर इंजन में उतारा गया।

Loading...

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here