Home लेटेस्ट लॉन्च लेक्सस, जनवरी 2018 में एलएस 500एच को लॉन्च करेगी

लेक्सस, जनवरी 2018 में एलएस 500एच को लॉन्च करेगी

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

जापानी लक्जरी कार निर्माता, लेक्सस जनवरी 2018 में भारत में अपनी वैश्विक रेंज-टॉपिंग मॉडल – एलएस सेडान को  लॉन्च करेगी। भारत में आने वाली संस्करण, हाइब्रिड एलएस 500एच है।

मूल एलएस ने 1989 में लक्जरी सेडान की दुनिया को हिलाकर रख दिया था और एक सदाशयी लक्जरी कार निर्माता के रूप में लेक्सस की स्थापना की। तब से, एलएस लेक्सस की अभिन्न हिस्सा रही है। 2017 डेट्रॉइट मोटर शो में इसकी नई मॉडल का अनावरण किया गया था। नवीनतम एलएस को शानदार ढंग से डिजाइन किया गया है। बीएमडब्ल्यू 7-सीरीज और मर्सिडीज-बेंज एस-क्लास की प्रतिद्वंदी एलएस, एक बड़ी कार है; यह 5.2 मीटर से ज्यादा लंबी है और इसकी 3.1 मीटर की व्हीलबेस है।

इसके आंतरिक हिस्से में कुछ बदलाव हुए है। डैशबोर्ड का फ्लोविंग सतह है और अब कई भौतिक बटनों की जगह कई स्क्रीन मौजूद है। केबिन में उच्चतम गुणवत्ता वाले सामानों का उपयोग किया गया है। सामने वाली यात्री के लिए 28 तरीके से समायोज्य होने वाली विद्युत सीट है और इसमें हीटिंग, कूलिंग और मसाज फक्शन शामिल होंगे, लेकिन कार में सबसे अच्छी सीटें पीछे की तरफ होगी।

लेक्सस, मर्सिडीज-मेय्बेच एस500 के साथ प्रतिद्वंद करने के लिए भारत में एलएस को ला रही है और इसलिए वह रियर सीट लक्जरी को अधिकतम करने की कोशिश कर रही है। भारत के लिए एलएस के मानक के रूप में उच्चतम रियर सीट पैकेज के साथ आने की संभावना है, और इसमें बैकरेस्ट के लिए 48 डिग्री रेक्लाइन के साथ समायोज्य सीटें है। लेक्सस का दावा है कि नई एलएस सक्रिय शोर दमन तकनीक के साथ आती है, जो की इस कार को किसी भी एलएस कार से ज्यादा शांत है।

हाइब्रिड पर अपना ध्यान केंद्रित करते हुए, लेक्सस मानक एलएस 500 की बजाय 500एच फॉर्म में एलएस को लॉन्च करेगी। एलएस 500एच के पावरट्रेन में 3.5 लीटर वी6 पेट्रोल इंजन और दो विद्युत मोटर्स शामिल हैं, जो की संयुक्त 354 एचपी का उत्पादन करते हैं। पावर को ई-सीवीटी ट्रांसमिशन के माध्यम से संचारित किया जाता है।

एलएस 500एच फुल-व्हील ड्राइव और रियर-व्हील ड्राइव फॉर्म में विदेशों में बेची जाती है, हालांकि यह रियर व्हील ड्राइव फॉर्म में भारत में बेची जाएगी। दिलचस्प बात यह है कि लेक्सस का दावा है कि नई एलएस अधिक प्रत्यक्ष स्टीयरिंग और नई वाहन गतिशीलता प्रबंधन प्रणाली के साथ बेहतर ड्राइविंग अनुभव प्रदान करती है।

लेक्सस भारत में एलएस 500एच को आयात करेगी, जिसका मतलब है कि यह बीएमडब्ल्यू, जगुआर और मर्सिडीज-बेंज की लक्जरी लिमोसिन प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में अधिक महंगी होगी। इसकी कीमत 1.5 करोड़ रुपये (अनुमानित, एक्स-शोरूम) से ज्यादा होने की उम्मीद है। लेक्सस ने कार के लिए बुकिंग लेना शुरू कर दिया है।