Home राष्ट्रीय न्यूज ह्युंडई ने भारत में सांता फ़े बंद की

ह्युंडई ने भारत में सांता फ़े बंद की

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

खराब बिक्री के कारण ह्युंडई सांता फ़े को भारतीय बाजार में बंद कर दिया गया है। 2015 में लॉन्च हुई, यह घरेलू बाजार में दक्षिण कोरियाई ऑटोमेकर की प्रमुख एसयूवी थी। प्रीमियम कारों की बढ़ती मांग के बावजूद, यहां सांता फ़े को सफलता प्राप्त नहीं हुई।

पिछले छह महीनों में ह्युंडई इंडिया ने इस प्रीमियम एसयूवी की केवल 67 इकाइयां बेची हैं। जुलाई 2017 में, ह्युंडई सांता फ़े की केवल 14 इकाइयों को बेचने में कामयाब रही, जबकि अगस्त में यह संख्या केवल एक यूनिट थी। जबकि ह्युंडई सांता फ़े को असफलता का सामना करना पड़ा, लेकिन टोयोटा फॉर्च्यूनर और फोर्ड एंडेवर जैसे प्रतिद्वंदी विमुद्रीकरण, जीएसटी जैसे मुश्किल समय के दौरान भी स्थिर बिक्री करने में कामयाब रहे।

नए फॉर्चूनर और नए एंडेवर के लॉन्च के साथ प्रतिद्वंद्वी ऑटो कंपनियों को इस सेग्मेंट में काफी सफलता मिली। लेकिन, ह्युंडई सांता फ़े की बिक्री परिणाम में सुधार नहीं हुआ। यही कारण है कि, भारत की दूसरी सबसे बड़ी ऑटो निर्माता ने देश में अपने प्रमुख मॉडल को बंद कर दिया है। हालांकि, ऑटोमेकर ने कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की है।

ह्युंडई ने सांता फ़े को यहां लॉन्च करने से पहले 2014 नई दिल्ली ऑटो एक्सपो में प्रदर्शित किया था। यह तीन अलग-अलग वेरियंट में उपलब्ध थी – 27.94 लाख रुपये और 31.16 लाख रुपये (एक्स-शोरूम, नई दिल्ली) की कीमत रेंज के साथ 2डब्ल्यूडी एमटी, 2डब्ल्यूडी एटी और 4डब्ल्यूडी एटी।

इंडिया-स्पेक ह्युंडई सांता फ़े, ई-वेरिएबल ज्योमेटरी टर्बोचार्जर के साथ 2.2-लीटर डीजल इंजन द्वारा संचालित है। इंजन 194 बीएचपी की पीक पावर और 421 एनएम की पीक टॉर्क का उत्पादन करने में सक्षम है। एसयूवी के लिए ट्रांसमिशन विकल्प में 6 गति हस्तचालित और 6 गति ऑटोमेटिक गियरबॉक्स शामिल है।

वर्तमान में, ह्युंडई घरेलू बाजार में कई मॉडल को लॉन्च करने की तैयारी कर रही है। उनमें से एक कोना एसयूवी है, जो की क्रेटा के ऊपर मौजूद होगी। कोरियाई ऑटोमेकर, इस एसयूवी की विद्युत संस्करण को भी पेश करने की योजना बना रही है, जो कि अगले वर्ष तक यहां आ सकती है।

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.