Home राष्ट्रीय न्यूज होंडा, भारत के लिए सस्ते हाइब्रिड कारें विकसित करेगी

होंडा, भारत के लिए सस्ते हाइब्रिड कारें विकसित करेगी

by कार डेस्क
Published: Last Updated on
Honda cars

टोक्यो: भारत सहित कीमत संवेदनशील बाजारों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए होंडा सस्ती हाइब्रिड कारों का विकास कर सकती है। वर्तमान में, हाइब्रिड कारों को देश में खरीदना महंगा होता है, क्योंकि विद्युत वाहनों की तुलना में उनपर जीएसटी के तहत 43% शुल्क लगता हैं, और विद्युत वाहनों पर 12% टैक्स लगता है।

होंडा मोटर कंपनी के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, ताकाहिरो हाचिगो ने कहा, “हाइब्रिड का इस्तेमाल मौजूदा बुनियादी ढांचे के साथ किया जा सकता है। हमारा उद्देश्य हाइब्रिड वाहनों के साथ आना है, जिसे ग्राहक पसंद कर सके।” “भारत सरकार द्वारा निर्धारित उन नीतियों के बारे में सोचने की बजाए होंडा को इसी पर ध्यान केंद्रित करने की जरूरत है।”

होंडा ने 2030 तक विद्युतीय वाहनों से अपनी वैश्विक बिक्री का 65% प्राप्त करने की रणनीति तैयार की है। 65% में, 50% हाइब्रिड और प्लग-इन हाइब्रिड होंगे, जबकि 15% ईंधन सेल्स का उपयोग करने वाले वाहनों सहित शून्य उत्सर्जन वाहन होंगे।

भारत सरकार चाहती है कि देश 2030 तक विद्युत वाहनों की ओर पूरी तरह से आगे बढ़े। हाचिगो ने कहा कि होंडा गैसोलिन इंजन को अधिक कुशल बनाने के लिए काम करेगी।

हाचिगो ने कहा, “हमने 20 लाख से अधिक हाइब्रिड वाहन बेचे हैं, लेकिन जब भारत की बात आती है, तो हम अभी भी नहीं जानते कि यहाँ विद्युत वाहनों की वृद्धि की संभावना कितनी है।”

जापान में हाल ही में संपन्न टोक्यो मोटर शो के मौके पर, होंडा ने अपनी लोकप्रिय कारों के हाइब्रिड संस्करणों का प्रदर्शन किया, जिसमें प्लग-इन हाइब्रिड सेडान क्लेरिटी की रेस वर्जन शामिल थी। लेकिन होंडा के वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में भारतीय बाजार के लिए कोई भी मॉडल तैयार नहीं किया गया है।

हालांकि, होंडा इंडिया कार्स के अध्यक्ष और सीईओ, योइचिरो युनो ने पुष्टि की है कि कंपनी अगले तीन सालों में छह नए मॉडल लाने की योजना बना रही है। नए मॉडल को देश में संकलित किया जाएगा और इसमें हाइब्रिड कार शामिल हो सकते हैं।