Home विंटेज कार “विंटेज एंड क्लासिक कार क्लब ऑफ इंडिया” के इतिहास पर एक नजर

“विंटेज एंड क्लासिक कार क्लब ऑफ इंडिया” के इतिहास पर एक नजर

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

पहली कार ने प्रवेश किया था। आगे के कुछ वर्षों में देश में 3 ओल्ड्समोबाइल का निर्यात हुआ था, और पहली कार के प्रवेश के बाद मात्र 10 वर्षों में हजारों वाहनें अनेकों महाराजाओं, राजकुमारों व उद्योगपतियों द्वारा उपयोग में देखने को मिले।

यह लगभग 1900 ई. था जब भारत में पहली कार ने प्रवेश किया था। आगे के कुछ वर्षों में देश में 3 ओल्ड्समोबाइल का निर्यात हुआ था, और पहली कार के प्रवेश के बाद मात्र 10 वर्षों में हजारों वाहनें अनेकों महाराजाओं, राजकुमारों व उद्योगपतियों द्वारा उपयोग में देखने को मिले।

भारत में कार की जरूरत को देखते हुए, जनरल मोटर्स ने, 1927 में मुम्बई में अपना खुद का एक “एसेम्ब्ली” स्थापित किया। 10 वर्षों के अंदर ही ‘जनरल मोटर्स इंडिया लिमिटेड’ ने 11,000 कारें और ट्रकों का मंथन किया।

आज, लगभग 75 वर्षों के बाद, भारत के पास सबसे बड़ी संख्या में पुराने और विंटेज कारों के कलेक्शन का एक क्लब है। इस क्लब के मालिक इसके फाउंडर श्री प्राणलाल भोगीलाल है। इस कार क्लब की स्थापना का उनका उद्देश्य भारत को कारों का एक बड़ी हिरासत बनाना था।

आज वीसीसीसीआइ (विंटेज एंड क्लासिक कार क्लब ऑफ इंडिया) में कुल 158 सदस्य है। उन सदस्यों में- श्री नितिन दोस्सा एक अध्यक्ष के रूप में और श्री यश एच. रुइया एक ऑनेरेबल सेक्रेटरी के रूप में कार्यरत है।

वीसीसीसीआइ को एफ आइ वी ए (फेडेरेशन इंटरनेशनल वेहिक्युल्स एंशियेंस) द्वारा मान्यता प्राप्त है। एफ आइ वी एविंटेज कारों के लिए एक अंतर्राष्ट्रीय ढांचा के समान है।

पिछले पांच सालों में हुई वीसीसीसीआइ द्वारा आयोजित कार रैली के कुछ जानकारीयां:

  • विंटेज और क्लासिक कार प्रदर्शन पूणे:

दिनांक: 20 से 21 अक्टूबर, 2012

  • .सी.आइ और ड्ब्ल्यु.आइ.ए.ए ने टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ साझा करके टाइम्स ऑटो शो, पूणे में हिस्सा लिया था। इस ऑटो शो के दौरान विभिन्न कलेक्टर के द्वारा पेश किए गए विंटेज और क्लासिक कारों के वजह से बहुत बड़ी चहलपहल देखने को मिली थी। हजारों आगंतुकों ने इस शो के दौरान पुराने और विंटेज कारों की चमकती सुंदरता को सराहा था।
  • तीसरी 21 गन सैल्युट (सलामी) विंटेज कार रैली- गुरगाँव:

दिनांक: 9 दिसंबर, 2012

21 गन सैल्युट के तहत विभिन्न शहरों जैसे दिल्ली / एन. सी. आर और मुम्बई, कानपुर, जयपुर, चंडीगढ के कुछ हिस्सों से प्रमुख विंटेज कारों के कलेक्टर और मालिकों ने अपने वाहनों को प्रदर्शनी में पेश किया था। ये विंतेज व क्लासिक कारें आज के जमाने के तेज चलने वाले तकनीकों से भरपूर कारों के बीच थी फिर भी इसने हर आगंतुकों के नजर को अपने तरफ बनाया रखा था।

यह इवेंट दिल्ली, पंचशील क्लब से शुरू हुई थी और गुरगाँव के वैली पार्क में दिन के 12:30 बजे प्रदर्शित की गई थी। कॉकटेल और लंच के साथ एक अवार्ड सेरेमनी का भी आयोजन किया गया था।

  • विंटेज कार रन, मुलुंड:

दिनांक: 21 दिसंबर, 2012

इस विंटेज कार रन का उद्घाटन फिल्म हीरो अजय देवगन द्वारा मुलुंड में किया गया था। कार की प्रदर्शनी दिन के 1 बजे से शाम के 6 बजे तक आयोजित थी।

  • रोल्स रॉयस सिल्वर घोस्ट 1993 की शताब्दी समारोह:

दिनांक: 20 जनवरी, 2013

वीसीसीसीआइ ने लुभावनी रोल्स रॉयस की 100 वीं सालगिरह समारोह का आयोजन किया था। रोल्स रॉयस के मालिक का नाम मिस्टर तारीक इब्राहिम था।

  • गणतंत्र दिवस रैली महाराष्ट्र सरकार द्वारा आयोजित गणतंत्र दिवस समारोह का एक हिस्सा:

दिनांक: 27 जनवरी, 2013

यह रैली 27 जनवरी, 2013 को सरकार द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह को मनाने के लिए आयोजित किया गया था। विभिन्न प्रकार की विंटेज कारें और क्लासिक कारों को पेश किया गया था।

  • जयपुर विंटेज कार रैली
  • गणतंत्र दिवस रैली 2014:

दिनांक: 26 जनवरी, 2014

गणतंत्र दिवसके अवसर पर सरकारने विंटेज कारों की रैली का आयोजन किया था।

  • 21 गन सैल्युट कार रैली- दिल्ली, गुरगाँव में:

 दिनांक: 1 – 2 फरवरी, 2014

  • एन्युअल विंटेज कार फिस्टा (मुम्बई 2015)

दिनांक: 8 और 9 मार्च, 2014

  • विंटेज एंड क्लासिक कार एन्युअल फिस्टा (मुम्बई 2015)

दिनांक: 1 फरवरी, 2015

सभी रैलियों से जुड़ी विंटेज और क्लासिक कारों की तस्वीरों के लिए वीसीसीसीआइ पर क्लिक करें |

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.