Home कॉन्सेप्ट कार पांच साल में फ्लाइंग कार, एक वास्तविकता बन सकती हैं: उबर

पांच साल में फ्लाइंग कार, एक वास्तविकता बन सकती हैं: उबर

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

उबर टेक्नोलॉजी ने घोषणा की है कि वे पांच साल में एक फ्लाइंग कार का परीक्षण करेंगे। दारा खोसरोहाही, मुख्य कार्यकारी अधिकारी उबेर ने नई दिल्ली में मीडिया के साथ बातचीत में कहा “बैटरी तकनीक के आकार, पावर और बैटरी की भंडारण क्षमता में सुधार होने के साथ, अब हम इस स्थिति में हैं की हम कई रोटार के उस वाहन का निर्माण कर सकते है, जो की वर्टिकल टेकऑफ़ ले सकती हैं।” “हमें लगता है कि इन वाहनों को पायलट आधार पर उपलब्ध होने के लिए पांच साल या उससे अधिक लगेंगे।”

उबेर ने अपनी फ्लाइंग कार की पहल (उबर एलेवेटर) के लिए पिछले साल नासा के अनुभवी इंजीनियर मार्क मूरे को नियुक्त किया था, और उसके बाद फ्लाइंग कार मिशन को शुरू किया था। पिछले साल अप्रैल में, उबर ने महत्वाकांक्षी घोषणा की थी कि वह 2020 तक अपने पहले वाहन की जांच करने के लिए तैयार होगी, जो की हेलिकॉप्टर की तरह वर्टिकल टेकऑफ़ ले सकती है। हालांकि, अब दो साल से कम समय के साथ, उन्होंने तारीख को और आगे बढ़ा दिया है।

गूगल के सह-संस्थापक और सीईओ लैरी पेज के पास दो फ्लाइंग कार परियोजनाएँ है और इसके अलावा, टोयोटा मोटर और एयरबस भी इसी तरह की परियोजनाओं पर कार्य कर रहे हैं।

खुसरोहाही ने कहा, “वे सुरक्षित और शांत होंगे और हम अभी निर्माताओं से बात कर रहे हैं कि वे इस तकनीक को कैसे सुरक्षित बनाते हैं। हमारा काम आज लाभदायक नहीं है और भारत हमारी यात्रा का 10 प्रतिशत हिस्सा है।”

Leave a Comment

* By using this form you agree with the storage and handling of your data by this website.