Home राष्ट्रीय न्यूज 20 महीनों में मारुति बैलेनो के 2,00,000 यूनिट बिके

20 महीनों में मारुति बैलेनो के 2,00,000 यूनिट बिके

by कार डेस्क
Published: Last Updated on

अक्टूबर 2015 में मारुति सुजुकी ने बैलेनो मॉनिकर को नया रुप दिया, जब उन्होंने भारत में पहला प्रीमियम हैचबैक लॉन्च किया। बैलेनो ने तब से बहुत लोकप्रियता हासिल की है और इसका प्रति माह करीब 10,000 यूनिट्स का औसत रहा है। यह कार बाजार में सिर्फ 20 महीने पुरानी है और इसने पहले ही 2 लाख इकाइयों को बेच दिया है।

मारुति जापान, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और यूरोप और लैटिन अमेरिका के कई हिस्सों जैसे 100 से अधिक अंतरराष्ट्रीय बाजारों में बैलेनो हैचबैक का निर्यात भी करती है। यह भी पहली बार है, जब मारुति सुजुकी ने “मैक इन इंडिया” पहल के रूप में जापानी घरेलू बाजार में कार निर्यात की है।

बैलेनो ने 1 लाख यूनिट की बिक्री को पार करने के लिए एक साल से भी कम समय लिया और अगले छह महीनों में इसने 1.5 लाख की बिक्री पार की थी। बैलेनो लॉन्च होने के तुरंत बाद से टॉप 10 बिकने वाली कारों की सूची में रही है। हैचबैक नवंबर 2015 से और मई 2017 तक टॉप 10 बिकने वाले कारों की सूची में रही है। बैलेनो ने पेट्रोल वेरियंट में 1,53,743 इकाई और डीजल संस्करण में 43,917 इकाई बेचे हैं।

बैलेनो, मारुति की प्रीमियम नेक्सा चैनल के माध्यम से बिकने वाली सबसे सफल कार है। अधिक ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए कार को बैलेनो आरएस के रूप में एक हॉट संस्करण भी मिलता है। कार मारुति की 1.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन को भी पेश करती है।

इस अवसर पर ग्राहकों को धन्यवाद देते हुए, मारुति सुजुकी के कार्यकारी निदेशक, मार्केटिंग & सेल्स, श्री आर एस कल्सी ने कहा, “बैलेनो को वैश्विक ग्राहकों के रूची और आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए विकसित किया गया। उसने प्रीमियम हाइबैक खंड में केवल वर्चस्व ही नहीं बल्कि इसमें कई गुना विस्तार भी किया है।

डिजाइन और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नए मानक स्थापित करते समय, बैलेनो को भारत में और साथ ही कई अंतरराष्ट्रीय बाजारों में एक अकल्पनीय प्रतिक्रिया मिली है। हम बैलेनो की सफलता से बहुत खुश हैं। हम अपने सभी ग्राहकों को उनके समर्थन और धैर्य के लिए धन्यवाद करते हैं।”

बैलेनो के सभी वेरियंट मानक सुरक्षा सुविधाओं जैसे दोहरी एयरबैग और एबीएस के साथ ईबीडी के साथ आते है। बैलेनो का प्लेटफॉर्म नई पीढ़ी की मारुति डिज़ायर का आधार भी बनाता है और यह अगली पीढ़ी की सुजुकी स्विफ्ट में भी होगी।